Hindi Fables for Children (2014 - Mohit Trendster)

Views:
 
Category: Entertainment
     
 

Presentation Description

Hindi moral stories and a short comic jhootha na sahi (kids fables), year 2014 - Freelance Talents

Comments

Presentation Transcript

slide 10:

- म ेघावी चम क ू चभक ू खयग ोश एक भेघावी छात था। वह सदैव अऩनी क ऺा भे सवव प थभ आत ा था। सात वीॊ क ऺा भे ह ुम ी नाभन हॊग र छात व ृतत प तत म ोगग त ा भे ब ी चभक ू ने अऩनी शेणी भे प थभ सथान ऩाक य छात व ृतत अरजव त क ी औय अऩने सक ूर एवभ भात ा-पऩता क ा नाभ योशन कक म ा। अऩनी भेहनत औय र ग न के क ायण वह सफक ा द ुर ाया था। वापषव क ऩयीऺाओॊ से क ाप ी ऩहर े चभक ू ने जभक य अधम म न श ुर क य दद म ा वह ददन

slide 11:

यात अभम ास औय ऩढ़ाई भे र ग ा यहत ा। चभक ू के सक ूर ी मभत औय उसके घय के ऩास यहने वार े फचचो से उसने सवम ॊ क ो बफल क ुर अर ग -थरग कय मरमा । ऩयीऺा से 2 दद न ऩहर े चभक ू क ो टाम प ाईड फ ुखाय हो ग म ा डॉकटय वानय के अन ुसाय क भज़ोय शयीय औय प तत योधक ऺभत ा के क ायण उसके शयीय क ो इस से उब यने भे क ुछ हफत े र ग ने थे। ऩयीऺा ह ुम ी औय फीभाय चभक ू ऩ ूयी त ैम ायी होने के फाद ब ी ऩयीऺा भे फैठ नहीॊ ऩाम ा। क ुछ सभम ऩश चात ऩरयणाभ आम ा रजसभे जो सहऩाठी ऩढ़ने भे औसत सत य के थे वो ब ी अफ चभक ू से एक क ऺा आग े हो ग म े थे चभक ू क ो मभर ी छात व ृतत यद हो ग म ी। त फ चभक ू औय उसके अमब ब ावक ो क ो सभझ भे आम ा कक केवर ऩढाई ही ज़र यी नहीॊ उसके अरावा अनम गततपवगधमाॉ खेर -क ूद रगचमाॉ क र ा आदद भे थोड़ा सभम देना भहतवऩ ूणव है त ाकक छात जीवन भे एक सॊत ुर न फना यहे। साथ ही अऩने सवास्म साफ़-सपाई का धमान यखना बी ज़रयी है ताकक असवसथ होने के कायण हभ चभक ू क ी त यह क ोई भौक ा ना ग ॉवा दे। अग र े वषव से चभक ू ने ऩढाई के साथ- साथ अऩना क ुछ सभम अनम ग तत पवगधम ो भे दद म ा रजस से उसका ऩयीऺा ऩरयणाभ फेहत य ह ुआ औय उसक ा सॊत ुमर त शायीरयक एवभ फौपिक पवक ास ह ुआ। सभापत

slide 12:

- ममतता की परीका भोहन फाज़ औय चॊचर दहयण याजन वनम ऺेत क ी शान थे क म ोकक अऩनी फ ुपिभत ा औय कौशर से वो दोनो रॊफे सभम से अरग -अर ग औय सॊम ुक त र ऩ से याजन जॊगर के मरए कई साभानम ऻान पवऻानॊ रेखन रक वज आदद प तत म ोगग त ाम े जीत त े आ यहे थे। उम औय कऺा फढ़ने के साथ उनकी पततमोगगताओॊ का सतय फड़ा हो यहा था ऩय दोनो घतनषट मभत अफ बी ऩहरे की बाॉती पवजमी हो यहे थे। याजन जॊग र क ा ननह ू गग ि ऐसी प तत म ोगग त ाओॊ के मर ए आवेद न क यत ा ऩय भोहन औय चॊचर के क ायण क ब ी उसके चम न नहीॊ हो ऩात ा। ननह ू ने रसथतत फद र ने के मर ए द ोनो भे प ूट डार ने क ी सोची। उसने भोहन फाज़ से क हा कक चॊचर ऩीठ ऩीछे उसक ी तनॊद ा क यत ी है औय चॊचर क ो सभझाम ा कक सॊम ुक त टीभ प तत म ोगग त ाओॊ भे भेहनत त ुभ क यत ी हो ऩय शेम भोहन क ो मभर त ा है इसके अरावा तनॊदा औय अप वाह से ननह ू ने द ोनो के क ान ब य दद ए। धीये-धीये भोहन फाज़ औय चॊचर दहयण

slide 13:

भे द वेष ईषमाव की वजह से भतबेद होने रगे जफ बी रसथतत साभानम होने को मा स ुर झने क ो होत ी त ो ननह ू कप य से उनके भत ब ेद फढ़ा देत ा औय एक दद न फात इतनी फढ़ गमी तीखी फहस के फाद दोनो ने मभतता तोड़ री। उनहोने अऩने टीभ तोड़ दी औय इस फात का असय उनके एकर पदशवन ऩय ऩड़ा औय दोनो एक के फाद एक प तत म ोगग त ा हायने र ग े। जफकक ननह ू ने अऩनी टोर ी के साथ याजन जॊग र के प तत तनगधतव भे उन द ोनो क ी जग ह र े र ी। एक फाय शेखी भे ननह ू गग िने म ह फात अऩनी भॊडर ी क ो स ुनाई कक कैसे उसने द ो मभत ो क ो अर ग क य दद म ा। म ह फात ऩास ही पवशाभ क य यही नटखट गग र हयी ने स ुनी औय भोहन फाज़ चॊचर दहयण क ो क ह स ुनाई। त फ चॊचर औय भोहन भे स ुर ह ह ुम ी औय उनहे ऩत ा चर ा कक ईषम ाव औय सॊवाद क ी क भी के क ायण कक त ना न ुक सान होत ा है। द ोनो कप य साथ आम े औय उनहोने ननह ू क ी टीभ क ो हयाक य याषर ीम पवऻानॊ ओर रप ऩम ाड भे क वार ीप ाई कक म ा। इस से भोहन चॊचर औय हभ सफको मह मशऺा मभरती है कक बफना पवचाय ककमे औय जाॉच-ऩड़त ार कक म े द ूसयो क ी फात ो ऩय ऩ ूणव पवश वास नहीॊ क यना चादहए साथ ही मभत ो भे सॊवाद क ी क भी मभत त ा त ोड़ सक त ी है। सभापत

slide 14:

Artwork Jhootha Na Sahi – Ayush Jha Coloring and Calligraphy Jootha Na Sahi – Youdhveer Singh Stories Script – Mohit Sharma Trendster letsmohitgmail.com http://mohitness.blogspot.in/ https://www.facebook.com/Mohitness/ © Freelance Talents 2014 all rights reserved.

authorStream Live Help