BLOOD DONATION

Views:
 
     
 

Presentation Description

A Powerpoint Presentation expalaining Importance of Blood Donation.

Comments

Presentation Transcript

:

--:रक्तदान:-- Donate  Blood  ! Save a  Life  !! - Dr.Paritosh V Trivedi www.nirogikaya.com

PowerPoint Presentation:

रक्त मानव शरीर का एक प्रकार का तरल पदार्थ है , जो शरीर के कोशिकाओ / cells को आवश्यक पोषक तत्व और प्राणवायु / oxygen पहुचाने का काम   करता है और कोशिकाओ से खराब पदार्थ को   शरीर से बाहर निकलने का कार्य करता है।    रक्त   की कमी के कारण देश भर में हर साल लाखो लोगो   की मृत्यु हो जाती है। आंकड़ो के अनुसार   देश में हर साल  4 करोड़ यूनिट रक्त   की आवश्यकता होती है , पर मुश्किल से 40 से 50 लाख यूनिट रक्त   ही Blood Donation द्वारा एकत्रित हो पाता   है। हर 2 सेकंड में किसी न किसी को रक्त की जरुरत होती है और ऐसे में हर दिन 38000 रक्तदाताओ / Blood Donor की जरुरत है , लेकिन Blood Donation को लेकर समाज में फैली भ्रांतियों और जागरूकता के अभाव में लोग Blood donate करने के लिए आगे नहीं आते है।

Blood Donation की जरुरत क्यों है ?:

रक्त जीवन रक्षक है ! अब तक किसी ऐसी मशीन का शोध नहीं लगा है जो की कृत्रिम खून तैयार कर सके। किसी रक्तदाता / Blood donor द्वारा  Blood Donation करने पर ही   खून की कमी या जरुरत   को पूरा किया जा सकता है।   हर साल करोडो लोगो को रक्त की जरुरत होती है पर कुछ लाखो नसीबवालो को ही रक्त मिल पाता है।   Sickle Cell   के मरीज को कई बार Blood Donation की जरुरत पड़ती है।   अकेले एक Car Accident में ही 100 यूनिट रक्त की जरुरत पड   सकती है।    एक बार   Blood Donation कर आप 3 लोगो की जिंदगी बचा सकते है।   Blood Donation की जरुरत क्यों है ?

PowerPoint Presentation:

अगर आप 18 साल की उम्र से 60 साल की उम्र तक हर 90 दिन बाद   Blood Donation करते है , तो लग भग 30 gallon Blood Donate कर चुके होंगे जो   की 500 लोगो की जान बचा सकता है।   भारत में सिर्फ 7% लोगो का   Blood group 'O Negative' है। 'O Negative' Blood Group को Universal Donor भी कहते है। किसी भी   Blood group के लोगो को  'O Negative' Blood Group का रक्त दिया जा सकता है। Emergency के समय या नवजात बालक जिनका  Blood Group पता न हो , ऐसे   समय  'O Negative' रक्त बहुत    उपयोग में आता है।   भारत में सिर्फ 0.4 % लोगो का Blood group 'AB' होता है। इस Blood group के Plasma का उपयोग किसी भी  Blood group  के लोगो को emergency में लगा सकते है।   कई प्रकार के operation, emergency या बीमारी में   Blood Transfusion की जरुरत   पड़ती है। अगर पर्याप्त मात्रा में समय पर रक्त न मिले तो रोगी व्यक्ति को काफी तकलीफ हो सकती है और उनकी मृत्यू भी हो सकती है।  

Blood Donation कौन कर सकता है ?:

Blood Donation कौन कर सकता है ? आपकी उम्र  18 से 60 साल के बिच है।   आपका वजन ( Weight) 45 Kg या उससे ज्यादा है।   आपकी Pulse Rate 50 से 100 / min के बिच होनी चाहिए।   शरीर का तापमान / temperature 99.5°F से कम होना चाहिए।   Diastolic Blood Pressure 100 mm/Hg से कम होना चाहिए।    Systolic Blood Pressure 160 mm/Hg  से कम होना चाहिए।    खून में  Hemoglobin (Hb) की मात्रा  12.5 gm/dl से ज्यादा होना चाहिए।   पुरुष 90 दिन और महिलाए  120 दिन बाद दोबारा Blood Donation कर सकते है।   आप स्वस्थ है और   आपको मलेरिया , टाइफाइड , हेपेटाइटिस इत्यादि संक्रामक बीमारी नहीं है या काफी समय से नहीं हुई है।    

Blood Donation कौन नहीं कर सकता है ?:

Blood Donation  कौन   नहीं   कर सकता   है ? पिछले  Blood Donation के समय काफी चक्कर या थकावट महसूस की हो।   अगर आपको बार-बार  Blood Transfusion किया हो।   मासिक रक्तस्त्राव के समय  Blood Donation से परहेज करे I आप को कोई drug addiction या   व्यसन   हो।   24 घंटे के भीतर शराब का सेवन किये हुए व्यक्ति।   कई लोगो ( High risk individual)  के साथ   शारीरिक सम्बन्ध होना या वेश्यागमन किया है   ।   आप HIV Positive है या आप में AIDS के निचे दिए गए लक्षण मौजूद है। जैसे की : बेवजह वजन कम होना / Unexplained weight loss शरीर या मुंह में नीले , जामुनी या लम्बे समय से सफ़ेद दाग या धब्बे होना।   गर्दन / बगल या शरीर के किसी हिस्से में लम्बे समय से गांठ ( swollen lymph node) होना।       बार-बार बीमार होना या 99.5°F से ज्यादा का बुखार आना।   1 महीने से ज्यादा समय तक दवा लेने के बाद भी दस्त / loose motions की तकलीफ ठीक न होना।   HIV antigen / antibody test Positive आना।  

Blood Donation कैसे किया जाता है ?:

Blood Donation कैसे किया जाता   है ? एक औसत व्यक्ति के शरीर में 10 यूनिट   (5 से 6 लीटर)   खून   मौजूद होता है।  Blood Donation के समय सिर्फ 1 यूनिट रक्त ही लिया जाता है।   Blood donation की प्रक्रिया काफी सरल   है और इसमें डरने की ज़रा भी जरुरत नहीं है। Blood donation किस तरह किया जाता है इसकी जानकारी निचे दी गयी है : सबसे पहले आपका Registration होता है। आपका नाम , उम्र , पता इत्यादि जानकारी ली जाती है।   आपकी Medical history ली जाती है।   आपका Mini-physical परिक्षण किया जाता है जिसमे आपका Blood pressure, Pulse, Weight, Temperature के बाद  Blood group और Hemoglobin level  की जाँच की जाती है।   Blood donation करने योग्य पाए जाने पर आपको  Blood donation कक्ष में टेबल पर लिटाया जाता है। आप के हाथ में एक निर्जन्तुक सुई ( sterile needle) द्वारा 1 यूनिट रक्त 10 से 15 मिनिट में लिया जाता है।   Blood donation करने के बाद , एक बार फिर से आपका   Blood pressure और  Pulse परिक्षण किया जाता है।   आपके रूचि अनुसार  Blood donation के बाद आपको चाय-बिस्कुट या कोल्ड ड्रिंक दिया जाता है।   Blood Donation के बाद १/२ घंटे तक वाहन न चलाए।    आपको आपका  Blood group card और  Blood Donation Certificate भी दिया जाता है।        

Blood Donation करने के फायदे : :

Blood Donation  करने के फायदे : Research से यह पता चला है की , Blood Donation करने से Heart Attack और Cancer होने की आशंका कम हो जाती है। शरीर में cholesterol की मात्रा घटती है।   Blood Donation करना Weight loss करने वालो के लिए भी फायदेमंद है। एक बार  Blood Donation करने पर लगभग 650 calories खर्च हो जाती है।   Blood Donation करने से जरुरत से ज्यादा की Iron level की मात्रा कम हो जाती है। बहुत ज्यादा Iron level होना भी रक्तवाहिनियो के लिए नुक्सानदेह होता है।   Blood Donation करने वालो में ह्रदय रोग की आशंका 33% कम हो जाती है।   मानव शरीर  Blood Donation के रूप में किए गए खून की मात्रा की पूर्ति 24 घंटे में और कोशिकीय भाग की पूर्ति 1 से 2 माह के अन्दर पूरा कर लेता है। इससे शरीर की कार्यक्षमता और रोग प्रतिकार शक्ति बढती है।   Blood Donation करने से अस्थि मज्जा / Bone marrow सक्रीय बना   रहता है , जो रक्त निर्माण में साहायक होता है।  Blood Donation करने से शरीर में   रक्त बनने की प्रक्रिया में तीव्रता आती है।   

PowerPoint Presentation:

नियमित रक्तदाता में रक्त बनने की क्षमता उम्र के बढ़ने पर भी लगभग सामान्य बनी रहती है।   Blood Donation के वक्त आप का मुफ्त में physical जाँच और laboratory जाँच भी होती है।   Blood Donation कर के आप किसी को पुनर्जीवन प्रदान करते है। आप सिर्फ एक जिंदगी नहीं बल्कि उनसे जुडी कई अन्य जिंदगियो की   भी मदद करते है।   Blood Donation कर हम कई जिंदगीया बचाने का पुण्य कार्य करने का मौक़ा मिलता है।   Blood Donation से शरीर पर कोई कुप्रभाव नहीं पड़ता है और न ही किसी प्रकार की हानि होती है।   रक्तदान महादान है !! यह दान करने पर मिलनेवाली ख़ुशी और संतोष को शब्दों में बया नहीं किया जा सकता है।   

PowerPoint Presentation:

मेरी आप सभी से प्रार्थना   है की , आज ही Blood Donation / रक्तदान करने का संकल्प ले और किसी जरूरतमंद की सहायता करने की हर संभव कोशिश करे। आप जरुरत पड़ने पर   Blood Donation करने के लिए निचे दिए गए विकल्प चुन सकते है।   अपने शहर के Blood Bank में अपना नाम , पता , Blood group और Mobile number दर्ज करे ताकि किसी व्यक्ति को रक्त की   जरुरत के समय आपसे संपर्क हो सके। आपके Family Doctor के पास   अपना नाम , पता , Blood group और Mobile number दर्ज करे ताकि किसी व्यक्ति को रक्त की   जरुरत के समय आपसे संपर्क हो सके।   आप अपने अपने मित्रो या रिश्तेदारों के साथ मिलकर अपने  society में या Whatsapp, Facebook और Google Plus पर Blood Donor group बना सकते है।     आप कुछ online websites पर अपना नाम register करा सकते है। जैसे की   www.friends2support.com . स्वास्थ्य संबंधी उपयोगी लेख एवं अपने सवाल और सुझाव देने के लिए हमारी वेबसाइट www.nirogikaya.com पर अवश्य भेट दे ! Donate  Blood  ! Save a  Life  !!

-:Thank You :-:

-:Thank You :-

authorStream Live Help