Santosh Gangwar remarks about employment is to command youth (1)

Views:
 
Category: Entertainment
     
 

Presentation Description

Santosh Gangwar Saheb has said that there is no lack of jobs but lack of qualifications among North Indians. His statement is only part of the practice of governance. In fact, by saying this, they are not only trying to save their government failing on the employment front but also want to develop sense of inferiority (sense of inferiority) among the unemployed youth. Once this sense (bhava) develops, the questions end. And the question is over, the rule is easy.

Comments

Presentation Transcript

slide 1:

स ं त ो ष ग ं ग व ा र न े य क ह ा क र ो ज़ ग ा र क े अ व स र क न ह ं ब ि क उ र भ ा र त ी य म य ो य त ा क क म ी     संतोष ग ं गवार  16-09-2019    संतोष ग ं गवार साहब न े कहा ह ै क नौकरय क कमी नहं ह ै बिक उर भारतीय म योयता क कमी ह ै । उनका यह बयान शासन चलाए रखन े क ै िटस का एक हसा मा ह ै । दरअसल ऐसा कहकर वो न क े वल रोज़गार क े मोच पर वफल अपनी सरकार को बचान े क कोशश कर रह े ह बिक ब े रोज़गार य ु वाओ ं म स स ऑफ इनफरयरट हनता का भाव भी वकसत करना चाहत े ह । एक बार यह स स भाव वकसत हो जाए तो सवाल खम हो जात े ह । और सवाल खम तो शासन आसान । कमांड करन े क े लए स स ऑफ इनफरयरट वकसत कराना ज़र समाज म भगवान को ल े कर भी यह स स डव े लप कराया जाता ह ै । इस स स ऑफ इनफरयरट स े स स ऑफ इनसयोरट वकसत होती ह ै औऱ यहं उस आधार का नमाण होता ह ै जो सम ू ह वश े ष पर कमांड करन े क े लए ज़र ह ै । बचपन स े ह इस या को महस ू स कया जा सकता ह ै । ब े टा…वहाँ मत जाओ.. वहाँ भ ू त ह ै…बाहर मत जाओ…बाहर बाबा लोगो बचा उठा क े ल े जात े ह । - इस तरह क बात स े

slide 2:

1    बच म अस ु रा क भावना डाल जाती ह ै । और इसक े बाद उह कमांड कया जाना श ु हो जाता ह ै । महारा सरकार न े अवनी क जबरन हया क य े तो ह ै परवार क बात । अब द े खए…उन दल को जो दलत क राजनीत करत े ह । य े दल दलत क े मन म पहल े य े डर प ै दा करत े ह क त ु म अस ु रत हो…तमाम लोगो त ु हार े खलाफ ह …द े श क सामािजक- राजन ै तक संरचना त ु हार े खलाफ ह ै । इस अस ु रा क े भाव क े बोध क े बाद कमांड कया जाना श ु होता ह ै । म ु िलम औऱ ह ं द ु ओ ं क राजनीत करन े वाल े भी यह करत े ह । सवण ह ं द ू वोटस बीज े पी क े नयंण म ब े रोज़गार य ु वा ह ख़तरा अब अगर मौज ू दा सरकार क बात कर तो जात औऱ धम क े तर पर यह लोग को आराम स े कमांड कर रह ह ै । सवण ह ं द ु वोटब क सरकार स े चपक ह ु ई ह ै । और नकट भवय म सरकार क े खलाफ अगर कोई सम ू ह खड़ा दखाई द े ता ह ै तो वह ह ै रोज़गार क तलाश म लग े य ु वा । 2014 म मोद सरकार रोज़गार स ृ जन क े बड़ े- बड़ े वायद क े साथ सा म आई थी । ल े कन सा म आन े क े बाद रोज़गार दान कर पाना तो द ू र सरकार रोज़गार बचा कर भी नहं रख सक । चर क कमजोर भाजपा लय क मजब ू त ह ै ब े रोज़गार पर लोग हो रह े ह एकज ु ट कई आ ँ कड़ न े य े साबत कया क ब े रोज़गार रकॉड तर तक बढ़ च ु क ह ै । वराज इ ं डया क े य ु वा हलाबोल और कई वतं पकार न े इस म ु द े को ज़ोर- शोर स े उठाया िजसक े कारण सरकार इस मोच पर ब ै कफ ु ट पर आ गई थी । उर भारतीय पर टपणी का य े ह ै कारण य े समझना भी ज़र ह ै क संतोष ग ं गवार न े उर भारतीय को ल े कर य े टपणी य क इसक वजह ह ै च ु नाव म उर भारत म बीज े पी का शानदार दश न । म ु यतया ह ं द पट का नमाण करती ह ै । और यह ह ं द पट बीज े पी क ताकत ह ै । इस पट क े लोग क े नाराज़ हो जान े का मतलब पाट और सरकार को ग ं भीर न ु कसान ह ै । आखर संसद तक क ै स े पह ु ं च जात े ह आरोपी

slide 3:

2    इसीलए इस े म जो तबका नाराज़ हो सकता ह ै उस तबक े को नयंण म लया जाना ज़र ह ै । और संतोष ग ं गवार न े नयंण म ल े न े क े पार ं परक तरक े को अपनात े ह ु ए य ु वाओ ं म हनता क े भाव वकसत करन े क कोशश क ह ै । इस े भी पढ़ : मोद सरकार य ु वाओ को रोजगार द े न े म असमथ रह ह ।    SOURCE:​https://www.molitics.in/article/597/santosh-gangwar-remarks-about-employment-is-to-command-youth

authorStream Live Help