_Why is BSNL, which is connecting India, is breaking up_ (5)

Views:
 
     
 

Presentation Description

BSNL जिसका टैगलाइन था - कनैक्टिंग इंडिया वो इस तरह टूटेगा शायद ही किसी ने सोचा था। 3G तक की प्रतिस्पर्धा में ठीक ठाक बनी रही BSNL 4G के दौर में मरणासन्न हो गई है। नौबत ये है कि 1 लाख 76 हज़ार कर्मचारियों को सैलरी देने के लिए BSNL के पास पैसा नहीं है। सरकार के आगे हाथ पसारे BSNL कैश देने की गुहार लगा रही है।आखिर क्या कारण है कि 2000-2009 तक लगातार फ़ायदे में रही ये संस्था साल-दर-साल नुकसान झेलने लगी। लाखों युवा जिस नौकरी के सपने देखते हैं, आख़िर क्यों वहाँ के कर्मचारी बहाने पर मजबूर हैं? दरअसल सारा खेल शुरू होता है 2007-08 से। BSNL को 2600 MHz फ्रीक्वेंसी पर BWA (Broadband Wireless Access) मिला।2010 में सरकार ने 4G नेटवर्क के लिए नीलामी शुरू की। ये नीलामी 2300 MHz फ्रीक्वेंसी के लिए की गई।

Comments

Presentation Transcript

slide 1:

या JIO क वजह स े BSNL पंह ु चा घाट े म - जानए सचाई BSNL ​िजसका ट ै गलाइन था - कन ै िट ं ग इ ं डया वो इस तरह ट ू ट े गा शायद ह कसी न े सोचा था । 3G तक क तपधा म ठक ठाक बनी रह BSNL 4G क े दौर म मरणासन हो गई ह ै । नौबत य े ह ै क 1 लाख 76 हज़ार कम चारय को स ै लर द े न े क े लए BSNL क े पास प ै सा नहं ह ै । सरकार क े आग े हाथ पसार े BSNL क ै श द े न े क ग ु हार लगा रह ह ै । आखर या कारण ह ै क 2000-2009 तक लगातार फ़ायद े म रह य े संथा साल- दर- साल न ु कसान झ े लन े लगी । लाख य ु वा िजस नौकर क े सपन े द े खत े ह आख़र य वहाँ क े कम चार बहान े पर मजब ू र ह दरअसल सारा ख े ल श ु होता ह ै 2007-08 स े । BSNL को 2600 MHz व सी पर BWA Broadband Wireless Access मला । 2010 म सरकार न े 4G न े टवक क े लए नीलामी श ु क । य े नीलामी 2300 MHz व सी क े लए क गई । इसक े बाद एयरट े ल न े 2012 म LTE Network पर 4G स े वाए ँ श ु क । BSNL न े सरकार को कहा क उस े मल 2600 MHz व सी पर LTE Network क े ज़रए काम नहं हो पाएगा । BSNL 2011 क े बाद स े 2600 MHz व सी प े म वापस कर रफ ं ड का ग ु हार करन े लगी । सरकार न े 2014 म BSNL को रफ ं ड दया । य े रफ ं ड ऑपर े शनल खच को चलान े क े लए और पहल े स े मौज ू द 2G और 3G को मजब ू त करन े क े लए दया गया । ल े कन अब तक ट े लकॉम स े टर क तवीर बदल च ु क थी । Source: ​https://www.molitics.in/news/119898/why-bsnl-is-in-loss

slide 2:

4G क े आन े क े बाद िजयो का लगभग एकछ राय श ु हो गया । और साथ ह श ु हो गया बाक ट े लकॉम क ं पनय का अवसान । बाज़ार म BSNL क क ु ल हस े दार मा 10 फ़सद रह गई ह ै । नीत आयोग न े BSNL को बंद करन े का ताव दया ल े कन सरकार न े उस े ख़ारज़ कर दया । अब द े खना महवप ू ण होगा क सरकार अपन े इस उपम क े बार े म या सोच रह ह ै िजयो क े चार म म ु य प स े दखन े वाल े मोद सरकार का यान उन 1 लाख 76 हज़ार कम चारय क तरफ ह ै िजनका भवय BSNL क ख़ता माल हालत क े कारण अधर म लटक ह ै ज ब ह र ख ब र क प ो ल ह ै ख ु ल त ी त भ ी स च ी ख ब र ह म प ढ न े क ो म ल त ी स फ़ MOLITICS ​ प र

authorStream Live Help